Categories
  1. Onlymyhealth Qna
  2. आयुर्वेद
आयुर्वेद QNA

आयुर्वेद

आयुर्वेद तन, मन और आत्‍मा के बीच संतुलन बनाकर स्‍वास्‍थ्‍य में सुधार करता है। आयुर्वेद क्‍या है, इससे विभिन्‍न रोगों को इलाज कैसे होता है, इसका इस्‍तेमाल कैसे किया जाता है, आयुर्वेदिक औषधियां कौन-कौन सी हैं, आदि सवालों के जवाब यहां पायें। आप यहां पर सवाल भी पूछ सकते हैं।

OMH Expert (owner)

आयुर्वेद से संबंधित सवाल जवाब

प्रश्न पूछें

  • Question asked by Sushil Kumar
  • Question asked by Vikas Meena
     
     
    Answered by Team OMH
    • Team OMH

      Mon at 6:37 PM View All Answers (1)
    • A. नमस्कार, प्रश्न पूछने के लिए धन्यवाद। पेशाब रुक-रुक कर आने के कई कारण हो सकते हैं। ये गुर्दे की पथरी, गुर्दे की खराबी, ब्लैडर में इंफेक्शन या यूरिन इंफेक्शन हो सकता है। इसके लिए आप डॉक्टर से संपर्क करें। इसके अलावा पानी खूब पियें और मूली का सेवन खूब करें।...  more

    • Like 0
  • Question asked by uttam
     
     
    Answered by Team OMH
    • Team OMH

      Mon at 6:32 PM View All Answers (1)
    • A. नमस्कार, प्रश्न पूछने के लिए धन्यवाद। लाइपोमा कभी-कभी कैंसर में बदल जाता है इसलिए इसे नजरअंदाज न करें, भले ही ये आपको कोई शारीरिक परेशानी नहीं दे रहा है। इसे ठीक करने का उपाय सर्जरी है इसलिए आप किसी अच्छे डॉक्टर से संपर्क कीजिए।

    • Like 0
  • Question asked by Gaurav Agarwal
     
     
    Answered by Team OMH
    • Team OMH

      Mon at 5:53 PM View All Answers (1)
    • A. सवाल पूछने के लिए धन्‍यवाद, जोड़ों पर महानारायण, महा विषगर्भ तेल ,सैन्धवादि तेल,वंडर आयल या रूमताज तेल से सुबह शाम मालिश करें। महुआ, अलसी, तिल, सरसों तथा बिनौली के तेल को मिला कर और गरम कर के इससे मालिश करें।

    • Like 0
  • Question asked by अहाना शोना
     
     
    Answered by Team OMH
    • Team OMH

      Jan 11 View All Answers (1)
    • A. नमस्कार, प्रश्न पूछने के लिए धन्यवाद। संभवतः ऐसा आपके दांतों पर लगी कोटिंग (इनेमल) के घिस जाने के कारण हो रहा है। इनेमल दांतों का सुरक्षा कवच होती है जो दांतो को कठोर चीजों से सुरक्षा प्रदान करती है। जो लोग काफी जोर लगाकर टूथब्रश करते हैं, उनके दांत संवेद...  more

    • Like 0
  • Question asked by bmlagrawal
     
     
    Answered by Team OMH
    • Team OMH

      Jan 11 View All Answers (1)
    • A. नमस्कार, प्रश्न पूछने के लिए धन्यवाद। सफेद नमक में सेंधा नमक और काला नमक के मुकाबले पोषक तत्व कम होते हैं लेकिन नमक की प्रोसेसिंग के दौरान इसमें आयोडीन मिलाया जाता है, जो शरीर के लिए बहुत जरूरी है। आयोडीन की कमी से शरीर में घेंघा रोग हो जाता है। इसलिए जरू...  more

    • Like 0
  • Question asked by ronit roy
     
     
    Answered by Team OMH
    • Team OMH

      September 6, 2017 View All Answers (1)
    • A. सवाल पूछने के लिए धन्‍यवाद। आंखों में शुगर का जो असर होता है उसे रेटीनोपैथी कहते हैं। इसके अलग-अलग स्‍टेज हो सकते हैं, इसके जो शुरूआती स्‍टेज हैं उसे नॉन पॉलिफरेटिव डायबिटिक रेटीनोपैथी कहते हैं। इसमें छोटे-छोटे ब्‍लड लीकेजे होते हैं। सामान्‍यतया इसमें होन...  more

    • Like 0
  • Question asked by Subash Rout
     
     
    Answered by Team OMH
    • Team OMH

      August 9, 2017 View All Answers (1)
    • A. सवाल पूछने के लिए धन्‍यवाद। लहसुन में एंटीबायोटिक और एंटीसेप्टिक गुण होते हैं जो दर्द और इंफेक्शन को दूर करते हैं। सरसों के तेल में लहसुन को गर्म करें। ठंडा होने पर कानों में 2-3 बूंद डालें। तुलसी के पत्तों को पीसकर इसका रस कानों में डालें। ऐसा दिन में 2-...  more

    • Like 0
  • Question asked by Gautam Yadav
     
     
    Answered by Team OMH
    • Team OMH

      July 31, 2017 View All Answers (1)
    • A. सवाल पूछने के लिए धन्‍यवाद। एक लीटर पानी में एक छोटा चम्‍मच नींबू का रस और दो चम्‍मच शहद मिलाकर लें। अच्‍छे परिणाम के लिए इस मिश्रण को दिन के दौरान खत्‍म करें। नींबू और शहद दोनों मिलकर एसिड रिफ्लक्‍स का इलाज जल्‍द ही कर सकते हैं। सीने में जलन से बचने के ल...  more

    • Like 0
  • Question asked by Gautam Yadav
     
     
    Answered by Team OMH
    • Team OMH

      July 28, 2017 View All Answers (1)
    • A. सवाल पूछने के लिए धन्‍यवाद। लकवा या स्ट्रोक या कहिए पक्षाघात मस्तिष्क की एक बीमारी है। यह दो प्रकार का हो सकता है। पहला, दिल से मस्तिष्क की ओर जाने वाली रक्तवाहिनियों के फटने और दूसरा उनके बंद होने के कारण। जब एक या अधिक मांसपेशी समूह की मांसपेशियां पूरी ...  more

    • Like 0
  • Question asked by pradip kalsariya
     
     
    Answered by Team OMH
    • Team OMH

      June 24, 2017 View All Answers (1)
    • A. एक गिलास कुनकुने पानी में आधा चम्मच नमक मिलाएं और इसे धीरे-धीरे मुंह में चलाएं। इस क्रिया को दिन में तीन से चार बार दोहराएं। इससे थोड़ी जलन और दर्द तो जरूर हो सकता है, लेकिन छाले जल्द ठीक जाते हैं। पान के पत्तों का रस निकालकर, देशी घी में मिलाकर छालों पर ...  more

    • Like 1
  • Question asked by Rahul Verma
     
     
    Answered by Team OMH
    • Team OMH

      June 22, 2017 View All Answers (1)
    • A. उदर विकारों के लिये बेल का फल रामबाण दवा की तरह होता है। बेल के नियमित सेवन से कब्ज़ की समस्या जड़ से समाप्त हो जाती है। कब्ज़ के रोगी इस समस्या से राहत पाने के लिये इसके शर्बत का नियमित सेवन कर सकते हैं। बेल का पका हुआ फल उदर की स्वच्छता के अलावा आंतों को...  more

    • Like 0
  • Question asked by Mukesh kumar
     
     
    Answered by Team OMH
    • Team OMH

      June 20, 2017 View All Answers (1)
    • A. लहसुन पाचन की प्रक्रिया को बढ़ाता है और गैस की समस्या को कम करता है। नारियल पानी गैस की समस्या में काफी प्रभावकारी है। अदरक में पाचक एंजाइम होते हैं। खाना खाने के बाद अदरक के टुकड़ों को नींबू के रस में डुबोकर खाएं। गैस की समस्या से छुटकारा मिलेगा। लंबे सम...  more

    • Like 0
  • Question asked by Dev Rahul Rana
     
     
    Answered by Team OMH
    • Team OMH

      June 20, 2017 View All Answers (1)
    • A. सवाल पूछने के लिए धन्‍यवाद। पेट के दाईं हिस्से में दर्द होने का कारण अपेन्डिसाइटिस हो सकता है। किसी योग्‍य चिकित्‍सक की सलाह लें।

    • Like 0
  • Question asked by ranjay kumar
     
     
    Answered by Team OMH
    • Team OMH

      June 20, 2017 View All Answers (1)
    • A. सवाल पूछने के लिए धन्‍यवाद। पेट की चर्बी कम करने के लिए यह उपाय अपना सकते हैं। खान-पान : 5 सी - कैंडी, कुकीज (बिस्किट), केक, कोला और चिप्स - और तले हुए खाने से परहेज। नियमित व्यायाम : कितनी भी व्यस्त दिनचर्या क्यों न हो, व्यायाम जरूर करें। एरोबिक्स भी पेट...  more

    • Like 0
  • Question asked by Sonu Kumar
     
     
    Answered by Team OMH
    • Team OMH

      May 18, 2017 View All Answers (1)
    • A. Hi Sonu, Sawal pochhne ke liye aapka dhanaywaad. Nimbu ka tudka kaale namak ke saath apne mu mein rakhne se aapko ulti ka ehasas nahi hoga. Iske alawa aap ek glass pani mein shahed ko milakar pine se bhi ultiyoon ko rok saktey hain.

    • Like 0
  • Question asked by mani
     
     
    Answered by Team OMH
    • Team OMH

      May 18, 2017 View All Answers (1)
    • A. सवाल पूछने के लिए धन्यवाद। एक गिलास गुनगुने पानी में आधा चम्मच नमक मिलाएं और इसे धीरे-धीरे मुंह में चलाएं। इस क्रिया को दिन में तीन से चार बार दोहराएं। इससे थोड़ी जलन और दर्द तो जरूर हो सकता है, लेकिन छाले जल्द ठीक जाते हैं।
      शहद में मुलहठी का चूर्ण मिलाकर...  more

    • Like 0
  • Question asked by Prashant bhardwaj
  • Question asked by MuKesh MeeNa
  • Question asked by Sonam Utreja